What is Cryptography in Hindi?

By | 14th April 2020
Cryptography and network security

Meaning of Cryptography in Hindi

Cryptography एक Greek शब्द Krypto से लिया गया है| इस शब्द का अर्थ hidden /secrets होता है|

Cryptography का मतलब जानने से पहले आपको कुछ शब्दो का अर्थ पता होना जरूरी है|

मूल सन्देश (Original Message) को Plain Text कहते है |

कोडेड सन्देश (Coded Message) को Ciphertext कहते है |

Plain Text को Cipher Text में बदलने की प्रक्रिया को एन्क्रिप्शन (Encryption) कहते है|

Ciphertext को Plain Text में वापिस बदलने को deciphering या decryption कहते है |

वो सब scheme जो encryption के लिए इस्तेमाल होती है, उन सभी स्कीमो की study को Cryptography कहते है |

Types of Cryptography

  1. Symmetric
  2. Asymmetric

Symmetric Cryptography

इसमें sender और receiver एक ही key (same key) का इस्तेमाल करते है encryption और decryption के लिए |

Asymmetric Cryptography

इसमें sender और receiver अलग keys (different keys ) का इस्तेमाल करते है encryption और decryption के लिए |

Types of attack in Cryptography and Network Security

किसी भी encryption system पर हमला (attack ) करने का उदेशय सिर्फ plaintext को जानना नहीं होता बल्कि उस encryption system में इस्तेमाल होने वाली key को जानना होता है|

Key मालूम होने पर उस system के सभी messages को Decrypt किया जा सकता है |

किसी भी encryption scheme पर हमला (attack ) करने के आमतौर पर दो तरीके होते है:

  • Cryptanalysis
  • Brute- Force attack

Cryptanalysis: इस तरह के हमले (attack) algorithm के characteristic का लाभ उठा कर plaintext या फिर key को जानने की कोशिश करते है |

Brute-Force Attack: इस हमले (attack) में हमलावर (attacker) सारे key Combination इस्तेमाल करके cipher text को Plain text में बदलने की कोशिश करता है|

समान्यतर: cipher text को plain text में बदलने के लिए सभी सम्भवतय keys की आधी keys का प्रयोग करके यह किया जा सकता है |

Types of Cryptographic Algorithm:

Symmetric Key Algorithms:यह वो algorithms होते है जो एक ही key का इस्तेमाल करते है encryption coding तथा decryption के लिए|

उदहारण : DES -Data Encryption Standard; AES-Advanced Encryption Standard

Public Key Algorithms: इन algorithms में हर user के पास दो key होती है : Public Key जो की सबके पास होती है सन्देश (Message) को encrypt करने के लिए और एक Private Key जो की user इस्तेमाल करता है सन्देश (message) को decrypt करने के लिए |

उदहारण: RSA Algorithm.

Applications of Cryptography

Cryptography का इस्तेमाल बहुत जगह किया जाता है :

  1. सुरक्षित संचार: सुरक्षित संचार करने के लिए Cryptography का इस्तेमाल किया जाता है| जब भी हम phone या mobile पर बात करते है तो वोह बातें encrypt करके भेजी जाती है| इसका एक और उदहारण इंटरनेट भी है जहाँ हम वेबसाइट को एक्सेस करने के लिए https प्रोटोकॉल का इस्तेमाल करते है secure कनेक्शन के लिए|

2 . डेटा स्टोरेज : हर एक operating system encryption का इस्तेमाल करता है ताकि वो पासवर्ड को सीक्रेट रख सके, सिस्टम की कुछ महत्वपूर्ण फाइल को छुपा सके और अपने आप को अपडेट सिर्फ अपने निर्माता द्वारा ही कर सके|

3. पासवर्ड स्टोरेज: पासवर्ड स्टोरेज के लिए encryption का इस्तेमाल किया जाता है| ज्यादातर servers password plain text में न रख कर encrypted फॉर्म में स्टोर करते है ताकि अगर कोई Server System को access कर भी लेता है तो भी उसे password न मिले।

Related Articles:

IP Address क्या है ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *